‘हर-हर शंभू’ गाने की असली सिंगर फरमानी नाज़ नहीं, ये लड़की है

‘हर-हर शंभू’ गाने की असली सिंगर फरमानी नाज़ नहीं, ये लड़की है

‘हर हर शंभू’…अभी आपने ‘हर हर शंभू’ सिर्फ पढ़ा नहीं होगा. आपने गाने की लय में ही इसे गाया होगा. ये गाना कांवड़ियों के जत्थे से लेकर इंस्टा रील्स तक खूब वायरल है. कई लोगों ने तो इसको अपना कॉलर ट्यून भी बना लिया है. वायरल गाने में आवाज़ है फरमानी नाज़ की. ‘हर हर शंभू’ (har har shambhu) गाकर फरमानी नाज़ विवादों में भी घिरीं. लेकिन आज बात फरमानी नाज़ और उनसे जुड़े विवाद पर नहीं, ‘हर हर शंभू’ गाने के ओरिजिनल सिंगर्स अभिलिप्सा पांडा और जीतू शर्मा पर बात होगी.

कब आया ‘हर हर शंभू’?

यूट्यूब पर Jeetu Sharma नाम का एक चैनल है. इस पर 5 मई को Har Har Shambhu Shiv Mahadeva के टाइटल से ये गाना पब्लिश हुआ. इस पर अब तक 73 मिलियन यानी करीब सात करोड़ व्यूज़ आ चुके हैं और नंबर दनादन बढ़ रहे हैं. इस गाने को अभिलिप्सा पांडा (Abhilipsa panda) और जीतू शर्मा ने मिलकर गाया है. फरमानी नाज़ ने इस गाने को रिक्रिएट किया है. फरमानी नाज़ का वीडियो उनके यूट्यूब चैनल पर 24 जुलाई को पोस्ट किया गया था. उनके ‘हर हर शंभू’ को अब तक 58 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है.

हालांकि, ‘हर हर शंभू’ गाना अच्युत गोपी के ‘भजमन राधे’ भजन की धुन पर बना है. न्यूयॉर्क में रहने वाली अच्युत गोपी ग्रैमी अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट हो चुकी हैं. वो इस साल जनवरी में चर्चा में आई थीं, तब उनका एक भजन वायरल हुआ था.

क्या है Abhilipsa Panda की कहानी?

‘हर हर शंभू’ की ओरिजिनल सिंगर अभिलिप्सा पांडा उड़ीसा के क्योंझर (keonjhar) जिले की रहने वाली हैं. 4 साल की थीं तब से क्लासिकल म्यूज़िक सीख रही हैं. अभिलिप्सा अब 18 साल की हो गई हैं. इसी साल 12वीं की परीक्षा उन्होंने पास की है. अभिलिप्सा के घर का माहौल काफी कलात्मक है. उनके पिता रिटायर्ड फौजी हैं और आर्ट की फील्ड से जुड़े हैं. मां टीचर होने के साथ-साथ क्लासिकल डांसर हैं. उनकी छोटी बहन भी संगीत से जुड़ी हैं. अभिलिप्सा के दादा वेस्टर्न उड़ीसा के जाने माने कथाकार रहे. वे आसपास के इलाके में हारमोनियम बजाने के लिए फेमस थे.

Advertisements