मधुबाला और नर्गिस नहीं यह खूबसूरत एक्ट्रेस है बॉलीवुड की पहली ग्लैमर गर्ल, दिलीप कुमार से था खास कनेक्शन, अब बेटा है बड़ा एक्टर

मधुबाला और नर्गिस नहीं यह खूबसूरत एक्ट्रेस है बॉलीवुड की पहली ग्लैमर गर्ल, दिलीप कुमार से था खास कनेक्शन, अब बेटा है बड़ा एक्टर

मधुबाला और नर्गिस अपने समय की बेहतरीन एक्ट्रेसेस में गिनी गईं, उनकी खूबसूरती के आज भी चर्चे हैं. लेकिन बॉलीवुड में एक और एक्ट्रेस हुईं, जो उस दौर की सभी एक्ट्रेसेस पर भारी पड़ी और बॉलीवुड की पहली ग्लैमर गर्ल कही गई..मधुबाला और नर्गिस अपने समय की बेहतरीन एक्ट्रेसेस में गिनी जाती थीं. उनकी खूबसूरती के आज भी चर्चे हैं. लेकिन बॉलीवुड में एक और एक्ट्रेस हुईं, जो उस दौर की सभी एक्ट्रेसेस पर भारी पड़ी और बॉलीवुड की पहली ग्लैमर गर्ल कही गई. जी हां हम बात कर रहे हैं बेगम पारा की.

बेगम पारा का असली नाम जुबेदा उल हक था. वह 1940 से लेकर 1950 तक फिल्मों में एक्टिव रहीं. 1950 के दशक में उन्हें बॉलीवुड की ग्लैमर गर्ल के रूप में जाना जाता था. 1951 में उन्होंने फोटोग्राफर जेम्स बर्क को  लाइफ मैगजीन फोटो शूट के लिए पोज दिए. इस फोटोशूट के बाद वह देश से बाहर भी वह मशहूर हो गईं. कहा जाता है अमेरिकी सैनिक उनकी फोटो जेब में रख कर जंग लड़ते थे. बेगम पारा का जन्म ब्रिटिश भारत में हुआ था, जो अब पाकिस्तान में है. उनके पिता मियां एहसानुल-हक जज थे और वह बीकानेर की रियासत, जो अब उत्तरी राजस्थान है की न्यायिक सेवा में चले गए. वहां वह सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश बने. वह अपने समय के एक बेहतरीन क्रिकेटर भी थे. ऐसे में बेगम पारा का बचपन बीकानेर में बीता और उनकी शिक्षा अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में हुई.

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by RetroBollywood (@retrobollywood)

बेगम पारा के फिल्मों में आने की कहानी भी काफी दिलचस्प है. उनके बड़े भाई मसरुरुल हक एक्टर बनने के लिए 1930 के दशक के अंत में बॉम्बे चले आए. यहां उनकी मुलाकात बंगाली अभिनेत्री प्रोतिमा दासगुप्ता से हुई और और दोनों में प्यार हो गया और बाद में दोनों ने शादी कर ली. पारा जब भी वह बॉम्बे में उनसे मिलने जाती, तो वह अपनी भाभी की चकाचौंध भरी दुनिया से काफी प्रभावित होती थी. कई बार कुछ इवेंट्स में वह उनके साथ जातीं. उनके लुक को देख कर उन्हें भी फिल्मों के ऑफर आने लगे. ऐसा ही एक ऑफर शशधर मुखर्जी और देविका रानी ने उन्हें दिया. बेगम पारा को पहला ब्रेक 1944 में फ़िल्म चांद से मिला. फिल्म में प्रेम अदीब उनके नायक थे और सितारा देवी फिल्म में वैंप थीं. हालांकि वह फिल्मों में एक्ट्रेस के तौर पर स्थापित नहीं कर पाईं और उनकी ग्लैमर डॉल की छवी थी और वैसे ही उन्हें रोल मिले.

Advertisements